Xossip

Go Back Xossip > Mirchi> Stories> Hindi > SPERM THERAPHY

Closed Thread Free Video Chat with Indian Girls
 
Thread Tools Search this Thread
  #11  
Old 1st January 2011
RIDER MEMON's Avatar
RIDER MEMON RIDER MEMON is offline
:fly:FROM XB TO FB:cool:
 
Join Date: 8th April 2010
Location: surat
Posts: 33,271
Rep Power: 45 Points: 10542
RIDER MEMON is one with the universeRIDER MEMON is one with the universeRIDER MEMON is one with the universe
UL: 69.67 mb DL: 95.41 mb Ratio: 0.73

  #12  
Old 2nd January 2011
RIDER MEMON's Avatar
RIDER MEMON RIDER MEMON is offline
:fly:FROM XB TO FB:cool:
 
Join Date: 8th April 2010
Location: surat
Posts: 33,271
Rep Power: 45 Points: 10542
RIDER MEMON is one with the universeRIDER MEMON is one with the universeRIDER MEMON is one with the universe
UL: 69.67 mb DL: 95.41 mb Ratio: 0.73

  #13  
Old 2nd January 2011
pawankamdev123's Avatar
pawankamdev123 pawankamdev123 is offline
Zindagi Na Milegi Dobara
 
Join Date: 7th November 2009
Location: Mumbai
Posts: 4,253
Rep Power: 27 Points: 12279
pawankamdev123 is one with the universepawankamdev123 is one with the universepawankamdev123 is one with the universe
UL: 461.44 mb DL: 1.96 gb Ratio: 0.23
nice story bro...please continue....

  #14  
Old 2nd January 2011
sonali001's Avatar
sonali001 sonali001 is offline
Custom title
 
Join Date: 20th August 2010
Location: in the hearts
Posts: 9,269
Rep Power: 21 Points: 4899
sonali001 is hunted by the papparazisonali001 is hunted by the papparazisonali001 is hunted by the papparazisonali001 is hunted by the papparazisonali001 is hunted by the papparazisonali001 is hunted by the papparazi
UL: 1.07 gb DL: 20.39 gb Ratio: 0.05
Yaar pahle jesa likho, men hindi nahi jaanti.

  #15  
Old 3rd January 2011
Casinar's Avatar
Casinar Casinar is offline
Dimaagh ka garam, dil ka naram
Visit my website
  Diamond: Contributed more than $250 for XP server fund    Diamond: Contributed more than $250 for XP server fund      
Join Date: 8th February 2010
Location: Mauritius
Posts: 132,259
Rep Power: 258 Points: 163923
Casinar has hacked the reps databaseCasinar has hacked the reps databaseCasinar has hacked the reps databaseCasinar has hacked the reps databaseCasinar has hacked the reps databaseCasinar has hacked the reps databaseCasinar has hacked the reps databaseCasinar has hacked the reps databaseCasinar has hacked the reps databaseCasinar has hacked the reps databaseCasinar has hacked the reps databaseCasinar has hacked the reps databaseCasinar has hacked the reps databaseCasinar has hacked the reps database
Send a message via Yahoo to Casinar Send a message via Skype™ to Casinar
UL: 607.72 mb DL: 590.38 mb Ratio: 1.03
BUDDY HINDI FONT MEIN AGAR UPDATE KAROGE TO MAIN READ NAHIN KAR PAWUNGA...MUJHKO HINDI FONT MEIN PAHRNA NAHIN ATA...rOMAN FONT MEIN LIKHO JEISE ABHI LIKH RAHA HOON TO PAHR SAKUNGA..

THANKS.

aur post #11 aur 12 blank hai kuch bhi nazar nahin ata uss mein!!??

Last edited by Casinar : 3rd January 2011 at 03:36 AM.

  #16  
Old 4th January 2011
RIDER MEMON's Avatar
RIDER MEMON RIDER MEMON is offline
:fly:FROM XB TO FB:cool:
 
Join Date: 8th April 2010
Location: surat
Posts: 33,271
Rep Power: 45 Points: 10542
RIDER MEMON is one with the universeRIDER MEMON is one with the universeRIDER MEMON is one with the universe
UL: 69.67 mb DL: 95.41 mb Ratio: 0.73

Last edited by RIDER MEMON : 4th January 2011 at 02:20 PM.

  #17  
Old 4th January 2011
RIDER MEMON's Avatar
RIDER MEMON RIDER MEMON is offline
:fly:FROM XB TO FB:cool:
 
Join Date: 8th April 2010
Location: surat
Posts: 33,271
Rep Power: 45 Points: 10542
RIDER MEMON is one with the universeRIDER MEMON is one with the universeRIDER MEMON is one with the universe
UL: 69.67 mb DL: 95.41 mb Ratio: 0.73
http://www.xossip.com/showthread.php?p=24439267#post24439267


रश्मि का ब्लो-जोब इतना खास था कि मेरे जैसा चोदू और अनुभवी आदमी जिसको झड़ने के लिए कम से कम 45 मिनट चाहिए, उसको रश्मि ने मात्र 15 मिनट में ही खलास कर दिया।
मैं बगैर पूछे न रह सका- रश्मि डार्लिंग ! यह बताओ ! आम तौर पर भारतीय नारी वीर्य नहीं पीती है, फिर तुमने मेरा सारा वीर्य क्यों पिया?
उसने अपनी पूरी स्पर्म थैरेपी की बात बतानी शुरू की...
मैं बचपन में बहुत दुबली थी, 18 साल तक मेरा मासिक धर्म शुरू नहीं हुआ और ना ही मेरी बड़ी चूचियाँ निकली, बहुत छोटी छोटी थी, हालांकि मेरी चूत की ग्रोथ सामान्य 18 साल वाली ही थी।
मेरी सभी सहेलियों की बड़ी-2 चूचियाँ थी और मासिक धर्म भी होते थे। वो सब अक्सर चिढ़ाया करती थी कि तुम्हारी शादी नहीं होगी, कोई लड़का तुमको चोदेगा नहीं।
मुझे बहुत आत्म-ग्लानि होती थी, तब मम्मी ने मेरा इलाज कराना शुरू किया। सभी बड़े डाक्टरों को दिखाया, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ।
इन्हीं सब में पूरा एक साल निकल गया। फिर पड़ोस की आंटी ने मम्मी से कहा कि बम्बई में एक बहुत प्रसिद्ध डाक्टर है जिनका नाम डाक्टर जे के लाल जो सेक्सोलॉजिस्ट है, उनको दिखाओ।
मेरी मम्मी बहुत स्मार्ट हैं, वह कॉलेज में पढ़ाती हैं, वह समझ गई कि समस्या बहुत गम्भीर है। अगर बेटी की जिन्दगी बनानी है तो कुछ करना पड़ेगा, इसलिए मम्मी मुझे बम्बई ले कर गई।
डाक्टर लाल की क्लीनिक बहुत बड़ी थी उनकी 1000 रूपए फीस थी, काउन्टर पर 1000/- जमा कर के पर्चा बनवाया, भीड़ बहुत थी बाहर के मरीज ज्यादा थे।
कोई एक घंटे के बाद मेरा नम्बर आया और हम लोग डाक्टर के केबिन में घुसे, डाक्टर साहब की उमर तकरीबन 55 वर्ष की होगी, बहुत गम्भीर और सौम्य लग रहे थे। मम्मी ने डाक्टर साहब को मेरी समस्या एवं पूरी केस हिस्ट्री बताई।
डाक्टर ने बड़े धैर्य से सुना, फिर बोले- इससे पहले आप के खानदान में कोई इस प्रकार की बीमारी से ग्रसित तो नहीं है?
मम्मी ने कहा- नहीं ! कोई नहीं... डाक्टर साहब।
फिर डाक्टर साहब ने बड़े गम्भीरता से मम्मी से कहा- चेकअप रूम में अपनी बेटी को ले जाइये, मैं आ कर देखता हूँ।
हम लोग चेकअप रूम में चले गये। कोई 15 मिनट के अन्दर ही डाक्टर साहब आ गये। डाक्टर ने मेरे सारे कपड़े उतरवा दिए, बड़ी सावधनी से मेरे चुचूकों और बुर को देखा। फिर डाक्टर मेरी बुर के अन्दर दो तीन मशीनें डाल कर काफी देर तक देखते रहे। फिर मुझसे बोले- अब आप अपने कपड़े पहन लीजिये और अपने केबिन में मम्मी को बुलाते हुए चले गये।
मैं कपड़े पहन कर मम्मी के साथ डाक्टर के केबिन में गई। डाक्टर ने मम्मी को बड़ी गम्भीरता से बाताया- रोग जटिल है, एक्यूट हार्मोनल डिसओर्डर है ! इसका इलाज बहुत महंगा है क्या आप इतना खर्च कर सकेंगी?
मम्मी ने पूछा- कितना खर्च आएगा?
तकरीबन 5 लाख... डाक्टर ने बताया।
मम्मी निराश होते हुए बोली- हम लोग मध्यम वर्ग से हैं, हम लोग इतना खर्च नहीं कर सकते। कुछ सस्ता इलाज बताइये...डाक्टर साहब !
डाक्टर कुछ सोच कर बोले- देखिये मैडम, जो इलाज मैं बताने जा रहा हूँ उसमें कोई खर्चा तो नहीं है, बस उस इलाज को भारतीय समाज में मान्यता नहीं मिली है ! क्या आप कर पाएंगी ?
मम्मी पहले तो कुछ पल तक चुप रही फिर बोली- मुझे अपनी बेटी की जिन्दगी संवारनी है, मैं करुंगी, डाक्टर साहब आप इलाज बताइये।
डाक्टर ने कहा- एक बार फिर से विचार कर लीजिए...
मम्मी ने आत्मविश्वास के साथ जवाब दिया- डाक्टर साहब, मैं कर लूंगी।
ओके ! डाक्टर बोले- देखिये आप की बेटी को "सेक्सुअल एराउज़ल एण्ड स्पर्म थैरेपी" करानी पड़ेगी।
इसमें क्या होता है? मम्मी ने पूछा।
डाक्टर साहब बोले- फ्रेश ह्युमन स्पर्म एक प्रकार का ऐसा नैचुरल प्रोटीन होता है, जिसके पीने से इंसान के हर्मोनल डिसओर्डर दूर हो जाते हैं इसलिये रश्मि बोटिया को 50 एम एल बगैर हवा लगे फ्रेश ह्युमन स्पर्म प्रति दिन एक साल तक पीना है और इतने ही समय तक प्रति दिन कम से कम दो बार सेक्स करना है। इस थैरेपी से आपकी बेटी के सभी अविकसित अंगों का विकास हो जायेगा और फ़ीगर दूसरी लड़कियों की तरह बिलकुल सामान्य हो जायेगी...।
मम्मी बोली- ठीक है, मैं तैयार हूँ ! लेकिन डाक्टर साहब... बगैर हवा लगे फ्रेश ह्युमन स्पर्म मैं कैसे अरेन्ज करूंगी?
डाक्टर बोला- वो तो आपकी प्रोबलम है कि कैसे अरेन्ज करना है... हाँ मैं रश्मि को ट्रेनिंग दे सकता हूँ कि कैसे फ्रेश ह्युमन स्पर्म पियेगी।
मम्मी बोली- ठीक है डाक्टर साहब... मेरी बेटी को ट्रेनिंग दे दीजिये।
ओके !


Last edited by RIDER MEMON : 4th January 2011 at 02:31 PM.

  #18  
Old 4th January 2011
RIDER MEMON's Avatar
RIDER MEMON RIDER MEMON is offline
:fly:FROM XB TO FB:cool:
 
Join Date: 8th April 2010
Location: surat
Posts: 33,271
Rep Power: 45 Points: 10542
RIDER MEMON is one with the universeRIDER MEMON is one with the universeRIDER MEMON is one with the universe
UL: 69.67 mb DL: 95.41 mb Ratio: 0.73
डाक्टर उठ कर चेकअप रूम की तरफ चलने लगे और मम्मी से बोले- अपनी बेटी को लेकर अन्दर आइये।
मैं और मम्मी डाक्टर के पीछे चेकअप रूम में चले गये। वहाँ डाक्टर खुद चेकअप बेड पर लेट गये और बेड के बाईं साइड पर मम्मी से कहा कि आप यहाँ खड़ी होइये और मुझसे कहा- बेटा आप यहाँ हमारी दाहिने तरफ़ कमर के पास खड़ी होइये और मेरी पैंट खोल कर मेरा लिंग निकालिए...।
मैंने मम्मी की तरफ देखा...
मम्मी ने कहा- जैसे डाक्टर साहब कह्ते हैं, वैसे करो...
मैंने डाक्टर साहब की पैन्ट खोली, फिर अन्डरवियर से मुर्झाया हुआ लिंग बाहर निकाला। मैं पहली बार किसी मर्द के लिंग को देख रही थी। फिर डाक्टर साहब की तरफ देखने लगी।
डाक्टर साहब मम्मी से बोले- अपनी बेटी को लिंग खड़ा करना बताइये।
मम्मी ने मुझे आदमी के लिंग को खड़ा करने का तरीका सिखाया।
अब डाक्टर साहब का लिंग बिलकुल टाइट हमारे हाथों में था।
अब डाक्टर साहब की बारी थी, वह बड़े सलीके से बोले- बेटी रश्मि, मेरे लिंग को अपने मुँह में लेकर कस कर चूसो और साथ ही साथ अपनी जबान से लिंग के सुपारे को चाटो और यह क्रिया तब तक करती रहो जब तक कि लिंग से वीर्य न निकलने लगे और फिर उस वीर्य को तुम्हें अन्दर ही अन्दर पी लेना है। इस क्रिया को आम भाषा में "ब्लो जोब" कहते हैं। ध्यान रहे कि जब वीर्य निकलने लगे उस समय लिंग तुम्हारे मुँह में ही होना चाहिए। बाहरी हवा वीर्य में लगने से वीर्य ऑक्सीडाइज हो जाता है, उसको पीने से कोई फायदा नहीं। अब जैसा मैंने कहा वैसे करो।
मम्मी ने बीच में कहा- हाँ बेटा, जैसे डाक्टर साहब ने कहा है, वैसे करो ! मैं हूँ ना तुम्हारे साथ।
फिर मैं डाक्टर साहब के लिंग को वैसे ही चूसने लगी जैसे कि डाक्टर साहब ने बताया था। मुझे इस इलाज में बड़ा मजा आ रहा था, मैं डाक्टर साहब के लिंग को चूसे जा रही थी, डाक्टर सहब का लिंग और कड़ा होता जा रहा था डाक्टर साहब अपने लिंग को मेरे मुँह के और अन्दर तक घुसेड़ने में लगे थे। कभी कभी मुझे उबकाई जैसे लग रही थी लेकिन मुझे तो पूरी लड़की बनना था इसलिये इसकी परवाह किये बगैर डाक्टर साहब का लिंग चूसे जा रही थी।
इतने में डाक्टर साहब ने अपनी कमर को मेरे मुँह की तरफ ठेला और उनके लिंग से कुछ नमकीन-2 गोंद सा मेरे मुँह में निकलने लगा। मैंने अपना मुँह लिंग से हटाना चाहा लेकिन डाक्टर साहब ने तुरन्त मेरे सर को पकड़ कर अपने लिंग को मेरे मुँह में गहराई तक घुसेड़ दिया। मेरा मुँह उस गोंद से भर गया। डाक्टर साहब ने धीरे से अपना लिंग मेरे मुँह से निकाला और बोले- इसे पी लो। यही वीर्य है जिसे तुम्हें रोज पीना है, चाहे तुम्हे अच्छा लगे या ना लगे ! और आपकी मम्मी आप को सेक्स करने का तरीका यानि कि चुदवाने का तरीका सिखा देंगी।
यह कहते हुए उन्होंने अपने कपड़े ठीक किये और केबिन में चले गये।
मम्मी ने मुझसे पूछा- कोई तकलीफ तो नहीं हुई?
मैंने नकारात्मक सर हिलाया, कहा- नहीं !
मम्मी डाक्टर साहब के इलाज से काफी संतुष्ट लग रही थी फिर हम लोग डाक्टर साहब के केबिन की तरफ बढ़ गये। डाक्टर साहब अपनी कुर्सी पर बैठे थे, हम लोगों को देख कर मम्मी से बोले- देखिये, रश्मि को मैंने स्पर्म थैरेपी के बेसिक्स बता दिये हैं, शुरू में थोड़ी दिक्कत आ सकती है पर धीरे-2 सब ठीक हो जायेगा। यदि कोई दिक्कत हो तो आप मुझे फोन कर सकती हैं। विश यू आल द बैस्ट ! डाक्टर साहब बोले।
शाम को हम लोगों का रिजर्वेशन था हम लोग वापस लखनऊ आ गये।




KAMSE KAM 5 REPLY KI UMMID HE YARO MERI UMMID MAT TODNA

  #19  
Old 5th January 2011
ViMi.JaaT's Avatar
ViMi.JaaT ViMi.JaaT is offline
 
Join Date: 3rd December 2010
Posts: 662
Rep Power: 32 Points: 24704
ViMi.JaaT is one with the universeViMi.JaaT is one with the universeViMi.JaaT is one with the universeViMi.JaaT is one with the universeViMi.JaaT is one with the universeViMi.JaaT is one with the universeViMi.JaaT is one with the universe
UL: 80.00 kb DL: 78.45 mb Ratio: 0.00
nice

  #20  
Old 5th January 2011
RIDER MEMON's Avatar
RIDER MEMON RIDER MEMON is offline
:fly:FROM XB TO FB:cool:
 
Join Date: 8th April 2010
Location: surat
Posts: 33,271
Rep Power: 45 Points: 10542
RIDER MEMON is one with the universeRIDER MEMON is one with the universeRIDER MEMON is one with the universe
UL: 69.67 mb DL: 95.41 mb Ratio: 0.73
अब मम्मी के सामने यह समस्या थी कि वीर्य के लिए किससे कहे, जोकि रोज ताज़ा वीर्य मुझे पिला सके। ऐसे किसी से कह नहीं सकते, समाज का भय था। इसी चिंता में मम्मी थी कि तभी फ़ूफा जी कानपुर से आ गए। फ़ूफा जी अक्सर ही आया करते थे और एक दो हफ्ते रहते थे। हम लोगों की सभी जरूरतें पूरी किया करते थे।
मम्मी ने मेरे फूफा जी से इस सन्दर्भ में बात की। फ़ूफा जी अक्सर मेरी मम्मी को चोदा करते थे। मैंने छुप कर कई बार देखा था, उनका लंड बहुत मोटा और लम्बा था जो कि मेरी मम्मी को बहुत पसन्द था और मुझे भी !
मम्मी को चुदते देख कर अच्छा लगता था, मन में मैं सोचा करती थी कि काश ऐसे ही कोई मुझे चोदे, लेकिन मेरी तरफ तो कोई लड़का देखता ही नहीं था।
खैर मम्मी ने फ़ूफा जी को मेरे लिये तैयार कर लिया। रात को खाना खाने के बाद मम्मी ने मुझे अपने कमरे में बुलाया और कहा- तुम्हारे फूफा तैयार हैं, फिलहाल तुम अपने फूफा का लन्ड चूस कर जितना वीर्य निकले उसे पी जाओ।
मैंने पूछा- यह लन्ड क्या है ?
मम्मी ने बताया- लिंग को ही आम भाषा में लन्ड कहते हैं। चलो, जल्दी से पी जाओ।
मैं फूफा के पास गई। फूफा अपने बिस्तर पर बिल्कुल नंगे लेटे थे। मम्मी ने पहले से ही उनके लन्ड को तैयार कर दिया था बस मुझे चूस कर वीर्य पीना था।
मैंने फूफा का लन्ड अपने कोमल हाथों से पकड़ा और ठीक वैसे ही चूसने लगी जैसे डाक्टर साहब ने बताया था।
फूफा को मजा आने लगा। फूफा ने मम्मी से कहा- यह तो बहुत मस्त तरीके से चूस रही है !
मम्मी ने मुस्कराकर कहा- ट्रेनिंग जो ली है, इसीलिये मस्त चूस रही है।
इतने में फूफा ने हाथ बढ़ा कर मम्मी को अपनी तरफ खींच लिया और लगे उनकी चूची दबाने...
मम्मी ने विरोध करते हुए कहा- क्या करते हो? बेटी है।
अब बेटी से क्या पर्दा...? फूफा बड़े प्यार से बोले- आओ हम सब आज मौज मस्ती करें ! बेटी का इलाज का इलाज हो जयेगा और मस्ती भी।
फूफा ने मम्मी का ब्लाउज खोल दिया। मम्मी की बड़ी-2 चूचियाँ बाहर आ गई।
फिर फूफा मुझसे बोले- बेटा, तुम भी अपने सारे कपड़े उतार दो।
मैंने फूफा की आज्ञा का पालन किया। उधर फूफा ने मम्मी को बिलकुल नंगा कर दिया। अब हम सब लोग एक ही बिस्तर पर नंगे थे। मैं फूफा का लन्ड फिर से चूसने लगी, फूफा मम्मी की चूचियाँ चूस रहे थे और एक हाथ से मम्मी कि बुर में उंगली कर रहे थे और दूसरे हाथ से मेरी बुर सहला रहे थे। मुझे कुछ कुछ होने लगा और बुर से कुछ लसलसा पदर्थ निकल रहा था।
फूफा मम्मी से बोले- अरे, रश्मि की चूत से पानी निकल रहा है !
मम्मी ने तुरन्त मेरी टांगें फैला कर देखा और चूत पर उंगलियों से टटोला, फिर एक उंगली चूत में घुसेड़ कर अन्दर-बाहर करने लगीं और फूफा से बोली- रश्मि अब चुदने लायक हो गई है क्योंकि इसके हल्की-2 झाटें भी आ गई हैं और चूत का छेद भी बड़ा लग रहा है। आप ही इसकी बुर का उदघाटन करिये, ठीक रहेगा।
फूफा ने मम्मी की आज्ञा का पालन किया और उठ कर मेरी चूत को बड़े गौर से देखा... यार इसकी चूत तो बहुत छोटी है मेरा लन्ड झेल पायेगी... मम्मी से बोले।
आप कोशिश तो करिये ! एक बार में न सही, दो तीन बार में तो हो ही जायेगा।
मैं यह सब सुन कर बहुत उत्साहित थी कि आज से मेरी चुदाई शुरू हो जायेगी।
फिर मम्मी ने मेरी दोनों टांगें फैलाते हुए ऊपर उठा लिया और फूफा से बोलीं- चलिये, अब आप इसे चोदिये !
फूफा ने मेरी गीली चूर पर अपना हलब्बी लन्ड रखा और हलके से चूत में घुसेड़ा, मेरे मुँह से अचानक चीख निकल गई।
क्या हुआ बेटा... मम्मी ने पूछा।
बहुत दर्द हो रहा है... मैंने कहा।
तब तक फूफा अपना लन्ड निकाल चुके थे और मम्मी से बोले- पहले रश्मि को किसी पतले लन्ड से चुदवाना पड़ेगा फिर ये मेरा लन्ड सह सकेगी।
ठीक है ! विशाल पाँच दिनों की छुट्टी में कल आ रहा है, उसका लन्ड अभी पतला ही होगा, पहले उसी से इसको चुदवाती हूँ, दो चार बार चुदेगी तो इसकी बुर रवां हो जायेगी, फिर आप चोदियेगा। फिल हाल बेटा तुम फूफा का रस पी लो। कम से कम आज की डोज तो मिल ही जाय... मम्मी मुझसे बोली।
(विशाल मेरा ममेरा भाई, जो गाजियाबाद से बीटेक कर रहा था)
मैंने फिर से फूफा का लन्ड चूसना चालू किया। फूफा का लन्ड फिर से टाईट हो गया और वो अपना लन्ड मेरे मुँह में बड़े जोरों से पेलने लगे, उन्हें बड़ा मजा आ रहा था। थोड़ी ही देर में मेरा मुँह उनके वीर्य से भर गया, मम्मी ने हमसे मुँह खोल कर दिखाने के लिए कहा।
मैंने मुँह में जितना वीर्य था उसको दिखाया।
मम्मी बोली- यह तो बहुत कम है ! ऐसे कैसे काम चलेगा? क्योंकि 50 एम एल वीर्य रोज चाहिए। खैर इसको तो तुम पी ही जाओ, कल देखेंगे।
फिर मैं कपड़े पहन कर अपने कमरे में सोने चली गई। बाद में फूफा ने मम्मी की भी चुदाई की, क्योंकि उनके कमरे से भचा भच की आवाजें आ रही थी।
मैं बहुत थक गई थी थोड़ी ही देर में मुझे नींद आ गई।


5 ke badle ek hi reply
kya yaar me khud apne aap par khud sharminda hu aur reply na deke mujhe aur mat sharminda karna plzzzzzzzz

Closed Thread Free Video Chat with Indian Girls


Thread Tools Search this Thread
Search this Thread:

Advanced Search

Posting Rules
You may not post new threads
You may not post replies
You may not post attachments
You may not edit your posts

vB code is On
Smilies are On
[IMG] code is On
HTML code is Off
Forum Jump



All times are GMT +5.5. The time now is 06:56 AM.
Page generated in 0.01883 seconds