Xossip

Go Back Xossip > Mirchi> Stories> Hindi > चौधराईन....!

Reply Free Video Chat with Indian Girls
 
Thread Tools Search this Thread
  #131  
Old 2nd February 2013
kamlabhati's Avatar
kamlabhati kamlabhati is offline
HELLO FRIENDS
Visit my website
 
Join Date: 26th June 2011
Posts: 4,607
Rep Power: 14 Points: 3698
kamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazi
बस फिर क्या था, दोपहर ढलते ही बेला अपने भारी भरकम पिछवाडे को मटकाते हुए चौधरी के बगीचे कि तरफ़ टोह लेने के ख्याल से जा निकली पर उसकी किस्मत कहें या बदकिस्मती कि नदी पर हुए झगड़े की खबर मदन को पहले ही लग गई थी क्योंकि गाँव में ऐसी बाते छिपती ही कहाँ हैं। सो मदन भी बेला की टोह लेता घूम ही रहा था। बगिया के पास दोनों की मुलाकात हुई। राम राम बेला चाची मदन ने बेला के भारी चूतड़ों और पपीते सी विशाल चूचियों पे हँसरत भरी नजर डाल के कहा। राम राम बेटा बेला मदन को देख थोड़ा सकपकाई पर उसकी नजरें अपनी चूचियों चूतड़ों पर देख मन ही मन खुश हो सहज हो गई। इधर कहाँ जा रही हो चाची मदन ने बेला से पूछा। ऐसे ही बेटा थोड़ा पेट भारी था सो सोचा थोड़ा टहल लूँ। बेला फ़िर थोड़ा हड़बड़ाई पर ऐन मौके पर उसे बहाना सूझ ही गया । अरे चाची आप तो जानती हैं मेरे पिताजी वैद्य हैं मेरे पास उनका अचूक चूरन है क्योंकि मेरा भी पेट गड़बड करता ही रहता है सो मैंने यहीं बगिया वाले मकान पर ही रख रखा है क्योंकि मेरा अधिक समय यहीं गुजरता है आप एक मिनट चली चलो मैं आप को चूरन दे दूंगा तुरन्त आराम हो जायेगा चाची मदन ने बेला से बोला। पहले तो बेला घबराई फ़िर सोचा ये शायद मेरी इसलिए चापलूसी कर रहा है कि मुझे खुश कर लाजो बसन्ती के बारे में मेरा मुँह बन्द करवाना चाहता है इसीलिए मुझे मुफ़्त चूरन देने को कह रहा है। मौका अच्छा है इस समय इससे अचार के लिये बगिया से आम भी ऐंठे जा सकते हैं। सो वो फ़टा फ़ट बगिया वाले मकान में जाने को तैयार हो गईं। मदन उसे आगे आगे कर पीछे से उसके हिलते चूतड़ देखते हुए चल दिया उसका शैतानी दिमाग तेजी से आगे की योजना बना रहा था। मकान के अन्दर पहुँच मदन ने दरवाजा बन्द करते हुए कहा चाची ये दो तरह के चूरन हैं अगर पेट गरम हो तो एक और ठण्डा हो तो दूसरा, जरा पेट तो दिखाइये।

Reply With Quote
  #132  
Old 2nd February 2013
kamlabhati's Avatar
kamlabhati kamlabhati is offline
HELLO FRIENDS
Visit my website
 
Join Date: 26th June 2011
Posts: 4,607
Rep Power: 14 Points: 3698
kamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazi
बेला ने धोती का पल्लू हटा दिया। मदन के सामने उसकी पपीते सी विशाल चूचियाँ और पेट नंगा हो गया। गोरी चिट्टी बेला ने साड़ी पेटीकोट आधे पेट से नाभी के ऊपर बाँधा हुआ था। मदन ने अपनी हथेली उसके मांसल गोरे पेट पर रख दबाई फ़िर चारो तरफ़ दबा दबा के उसकी माँसलता का आनन्द लेने लगा । जवान मर्द का हाथ बेला को भी अपने पेट पर अच्छा लग रहा था। अचानक बेला को छोड़ अलमारी से चूरन की शीशी निकालते हुए मदन बोला पेट में गरमी है। फ़िर उसे चूरन और पानी का गिलास दे कर कहा तुम ये चूरन खालो मैं अभी दो मिनट में तुम्हा्रे पेट का भारीपन ठीक किये देता हूँ। बेला ने सोचा चूरन खाने में वैसे भी कोई हर्ज नहीं सो उसने चूरन खाके पानी पी लिया। इधर मदन बिना बेला से कुछ कहे फ़िर अपनी हथेली उसके मांसल गोरे पेट पर चारो तरफ़ दबा दबा के उसकी माँसलता का आनन्द लेने लगा । बेला ने ऐसा दिखाया जैसे वो मदन के इस अचानक व्यवहार के लिए तैयार नहीं थी सो थोड़ी सी लड़खड़ाई और गिरने से बचने के लिए मदन के कन्धे पर हाथ रख दिया। मदन देखो गिरना नहीं मेरे गले में हाथ डाल लो मैं पेट की मालिश कर अभी दो मिनट में तुम्हा्रे पेट का भारीपन ठीक किये देता हूँ। बेला सचमुच बड़ा आराम मिल रहा है बेटा । और बेला ने मजे से मदन के गले में बाँह डाल दी अब उसका भारी सीना मदन के सीने से टकरा रहा था और वो अपने पेट पर उसके मर्दाने हाथ का मजा लेने लगी। अचानक मदन ने पेटीकोट के नाड़े में हाथ डाल नाभी में उंगली डाल के घुमाई जवान मर्द की मोटी खुर्दुरी उंगली नाभी मे घुसते ही बेला के मुँह से सिसकी निकाल गई। मदन ने बेला चाची की प्रतिक्रिया जानने के लिए उसकी तरफ़ देखा बेला का चेहरा उत्तेजना की लाली से थोड़ा तमतमाया सा लगा।

Reply With Quote
  #133  
Old 2nd February 2013
kamlabhati's Avatar
kamlabhati kamlabhati is offline
HELLO FRIENDS
Visit my website
 
Join Date: 26th June 2011
Posts: 4,607
Rep Power: 14 Points: 3698
kamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazi
मदन अब पेट कैसा है चाची बेला आह! काफ़ी आराम है बेटा। अचानक मदन का हाथ पेटीकोट के अन्दर ही नाभी से सरक के उसकी चूत पर पहुँच गया और मदन ने महसूस किया बेला की चूत पनिया गई है बस उसने पावरोटी सी फ़ूली चूत सहला दी। मदन ने सुनाकि बेला मालिन के मुँह से सिसकी निकली । बस मदन ने उसी क्षण आर या पार का फ़ैसला कर लिया और अचानक उसने बेला को उठा के बिस्तर पर पटक दिया। और खुद उसके ऊपर कूद गया। बेला अरे अरे ही कहती रह गई तब तक मदन ने एक हाथ से अपने पैंट की चैन खोलते हुए दूसरे हाथ से उसकी साड़ी पेटीकोट उलट दिया और बोला बहुत दिनों से तेरे मटकते चूतड़ों ने परेशान कर रखा था आज मौका लगा है। मन ही मन खुश होती बेला मालिन अपनी मोटी मोटी जाँघे फ़ैला दी पर ऊपरी मन से बोली अरे ये क्या बेटा तू मुझे चाची कहता है । मदन ने देखा बेला मालिन की चूत, पावरोटी सी फ़ूली हुई, करीब एक बित्ते के आकार की मोटे मोटे मजबूत होठों वाला भोसड़ा थी । मदन उसकी मोटी मोटी जाँघों के बीच बैठ गया और अपने फ़ौलादी लण्ड का हथौड़े सा सुपाड़ा उसके भोसड़े के मोटे मोटे होठों के बीच रखकर बोला तो ले आज तेरा ये भतीजा तुझे खुश कर देगा। बेला ने हाथ बढ़ाकर उसका नौ इन्ची लण्ड थामा तो सिहर उठी और अपनी चूत से हटाने की बेमन या कमजोर सी कोशिश करते हुए बोली अरे नहीं! अरे ठहर!

Reply With Quote
  #134  
Old 2nd February 2013
kamlabhati's Avatar
kamlabhati kamlabhati is offline
HELLO FRIENDS
Visit my website
 
Join Date: 26th June 2011
Posts: 4,607
Rep Power: 14 Points: 3698
kamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazi
मदन ने एक हाथ बेला मालिन के ब्लाउज में हाथ डाला और दूसरे से बेला चाची का हाथ पकड़ उससे अपना लण्ड छुड़ाने लगा । चुटपुटिया वाले बटन एक दम से खुल गये मदन ने ब्रा भी नोचली हुक टूट गया और बेला के विशाल स्तन लक्का कबूतरों से फ़ड़फ़ड़ा के बाहर आ गये स्तनों को हाथों से ढकने के बहाने चुदासी बेला मालिन ने फ़ौरन लण्ड छोड़ दिया पर इस नानुकुर के बीच उसने लण्ड का सुपाड़ा अपनी चूत की पुत्तियों के बीच सही ठिकाने पर लगा दिया था। मदन ने दोनों हाथों मे उसकी सेर सेर भर की चूचियाँ थाम धक्का मारा और एक ही बार मे पूरा लण्ड ठाँस दिया। बेला के मुँह से निकला शाबाश बेटा। फ़िर क्या था मदन हुमच हुमच के चोद रहा था और बेला मालिन किलकारियाँ भर रही थी मदन ने उसे आगे पीछे अगल बगल अटक पटक तरह तरह से मन भर चोदा यहाँ तक कि खुद लेट के उसको अपनी गोद में बैठा उसकी चूचियाँ चूसते हुए भी चोदा। जब मदन चोद के और बेला मालिन चुदवा के अघा गये, तो मदन उसे अचार के लिए उसकी मन पसन्द ढेर सारी अमियाँ दे कर बिदा कर मुस्कुराते हुए बोला बेला चाची जब पेट भारी हो तो आती रहना । बेला(मुस्कुराते हुए) हाँ बेटा तुझसे अच्छा वैद्य मुझे कहाँ मिलेगा। ये बोल और एक अर्थ भरी मुस्कुराहट मदन पर डाल अपनी चुदाई से मस्त हुई बेला चाची वहाँ से चलती बनी।

Reply With Quote
  #135  
Old 2nd February 2013
kamlabhati's Avatar
kamlabhati kamlabhati is offline
HELLO FRIENDS
Visit my website
 
Join Date: 26th June 2011
Posts: 4,607
Rep Power: 14 Points: 3698
kamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazi
आगे की कहानी दोस्तों कोमन हे और इसको थोडा चेंज किया था जैसे पहले वाली को किया था बाकि कहानी तो मुन्ना बाबु के कारनामे जैसी हे इसलिए इस कहानी को यही विराम देती हु !हा इससे मिलती जुलती सिचुएसन की कोई कहानी दिमाग में आई तो फिर शुरू कर दूंगी !धन्यवाद !

Reply With Quote
  #136  
Old 3rd February 2013
promos745's Avatar
promos745 promos745 is offline
 
Join Date: 30th December 2012
Location: India
Posts: 779
Rep Power: 4 Points: 484
promos745 has many secret admirerspromos745 has many secret admirers
mast hai

Reply With Quote
  #137  
Old 3rd February 2013
kamlabhati's Avatar
kamlabhati kamlabhati is offline
HELLO FRIENDS
Visit my website
 
Join Date: 26th June 2011
Posts: 4,607
Rep Power: 14 Points: 3698
kamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazikamlabhati is hunted by the papparazi
Quote:
Originally Posted by promos745 View Post
mast hai
thanks reppes you 219+7=226

Reply With Quote
  #138  
Old 5th February 2013
rahul.vns rahul.vns is offline
 
Join Date: 23rd May 2012
Location: Varanasi
Posts: 63
Rep Power: 6 Points: 1
rahul.vns is an unknown quantity at this point
UL: 3.37 mb DL: 64.52 mb Ratio: 0.05
http://www.xossip.com/showthread.php...abu+ke+karname

Reply With Quote
  #139  
Old 5th February 2013
rahul.vns rahul.vns is offline
 
Join Date: 23rd May 2012
Location: Varanasi
Posts: 63
Rep Power: 6 Points: 1
rahul.vns is an unknown quantity at this point
UL: 3.37 mb DL: 64.52 mb Ratio: 0.05
चलो रहने दो मालकिन कह कर आया ने पुरा जोर लगा के चौधराईन की कमर को थोडा कस के दबाया, गोरी चमडी लाल हो गई, चौधराईन के मुंह से हल्की सी आह निकल गई, आया का हाथ अब तेजी से कमर पर चल रहा था। आया के तेज चलते हाथो ने चौधराईन को थोडी देर के लिये भूला दिया की वो क्या पुछ रही थी। आया ने अपने हाथो को अब कमर से थोडा निचे चलाना शुरु कर दीया था। उसने चौधराईन की पेटीकोट के अन्दर खुसी हुइ साडी को अपने हाथो से निकाल दीया और कमर की साइड में हाथ लगा कर पेटीकोट के नाडे को खोल दिया। पेटीकोट को ढीला कर उसने अपने हाथो को कमर के और निचे उतार दिया। हाथो में तेल लगा कर चौधराईन के मोटे-मोटे चुतडो के मांसो को अपनी हथेलीं में दबोच-दबोच कर दबा रही थी। शीला देवी के मुंह से हर बार एक हल्की-सी आनन्द भरी आह निकल जाती थी। अपने तेल लगे हाथो से आया ने चौधराईन की पीठ से लेकर उसके मंसल चुतडों तक के एक-एक कस बल को ढीला कर दिया था। आया का हाथ चुतडों को मसलते मसलते उनके बीच की दरार में भी चला जाता था। चुतडों की दरार को सहलाने पर हुई गुद-गुदी और सिहरन के करण चौधराईन के मुंह से हल्की-सी हसी के साथ कराह निकल जाती थी। आया के मालिश करने के इसी मस्ताने अन्दाज की शीला देवी दिवानी थी। आया ने अपना हाथ चुतडों पर से खींच कर उसकी साडी को जांघो तक उठा कर उसके गोरे-गोरे बिना बालों की गुदाज मांसल जांघो को अपने हाथो में दबा-दबा के मालिश करना शुरु कर दिया। चौधराईन की आंखे आनन्द से मुंदी जा रही थी। आया का हाथ घुटनो से लेकर पुरे जान्घो तक घुम रहे थे। जांघो और चुतडों के निचले भाग पर मालिश करते हुए आया का हाथ अब धीरे धीरे चौधराईन की चुत और उसकी झांठों को भी टच कर रहा था। आया ने अपने हाथो से हल्के हल्के चुत को छुना करना शुरु कर दिया था। चुत को छुते ही शीला देवी के पुरे बदन में सिहरन-सी दौड गई थी। उसके मुंह से मस्ती भरी आह निकल गई। उस से रहा नही गया और पीठ के बल होते हुए बोली साली तु मानेगी नही
मालकिन मेरे से मालिश करवाने का यही तो मजा है
चल साली, आज जल्दी छोड दे मुझे बहुत सारा काम है
अरे काम-धाम तो सारे नौकर चाकर कर ही रहे है मालकिन, जरा अच्छे से मालिश करवा लो इतने दिनो के बाद आइ हुं, बदन हल्का हो जायेगा
चौधराईन ने अपनी जांघो को और चौडा कर दिया और अपने एक पैर को घुटनो के पास से मोड दिया, और अपनी छातीयों पर से साडी को हटा दी। मतलब आया को ये सीधा संकेत दे दिया था की कर ले अपनी मरजी की जो भी करना है मगर बोली हट्ट साली तेरे से बदन हल्का करवाने के चक्कर में नही पडना मुझे आज, आग लगा देती है साली चौधराईन ने अपनी बात अभी पुरी भी नही की थी और आया का हाथ सीधा सारी और पेटीकोट के नीचे से शीला देवी की बुर पर पहुंच गया था। बुर की फांको पर उन्गलियां चलाते हुए अपने अंगुठे से हलके से शीला देवी की चुत की क्लीट को आया सहलाने लगी। चुत एकदम से पनीया गई। आया ने बुर को एक थपकी लगाई और मालकिन की ओर देखते हुए मुस्कुराते हुए बोली पानी तो छोड रही हो मालकिन। ईस पर शीला देवी सिसकते हुए बोली साली ऐसे थपकी लगायेगी तो पानी तो निकलेगा ही फिर अपने ब्लाउस के बटन को खोलने लगी। आया ने पुछा पुरा करवाओगी क्या मालकिन।
पुरा तो करवाना ही पडेगा साली अब जब तुने आग लगा दी है तो


http://www.xossip.com/showthread.php...abu+ke+karname

Reply With Quote
  #140  
Old 5th February 2013
kantakijawani kantakijawani is offline
 
Join Date: 28th July 2011
Posts: 695
Rep Power: 8 Points: 264
kantakijawani has many secret admirers
aap plz gaon ki aurato ke nakhre wali kahani likhiye jise padh kar exbii par dhamaka ho jaye

Reply With Quote
Reply Free Video Chat with Indian Girls


Thread Tools Search this Thread
Search this Thread:

Advanced Search

Posting Rules
You may not post new threads
You may not post replies
You may not post attachments
You may not edit your posts

vB code is On
Smilies are On
[IMG] code is On
HTML code is Off
Forum Jump



All times are GMT +5.5. The time now is 05:53 AM.
Page generated in 0.01830 seconds